टमाटर(Tomato) खाने के फायदे और उसमे पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व

जैसा की हम सब जानते है की टमाटर एक सलाद में खाये जाने वाली सब्जी है इसे लोग बहुत अलग अलग प्रकार से खाने में दिलचस्पी रखते है | टमाटर में खूब अधिक कैल्सियम ,फास्फोरस ,विटामिन सी मात्रा में पाए जाते है | टमाटर में भी, विटामिन बी -6, फोलेट (बीटा कैरोटीन के रूप में) एक बहुत अच्छा स्रोत पाया जाता है  विटामिन सी, बायोटिन, मोलिब्डेनम और विटामिन ये सभी मुख्य तत्व है  और  तांबा, पोटेशियम, मैंगनीज, आहार फाइबर, विटामिन ए(A) का एक बहुत अच्छा स्रोत हैं| नियासिन, विटामिन ई(E) और फास्फोरस टमाटर में अधिक पाए जाते है |
टमाटर(Tomato) खाने के फायदे:

  1. एनीमियाके रोगी को रोजाना दो सौ ग्राम टमाटर का रस पीने से बहुत लाभ होता है।
  2. कैंसर रोग   टमाटर लाइकोपीन एंटीऑक्सिडेंट, कैंसर, विशेष रूप से फेफड़े, पेट और प्रोस्ट्रेट कैंसर के जोखिम को कम करने में प्रभावी है यही : कैंसर से लड़ने में मदद करता है।
  3. रक्त स्वास्थ्य को बनाए रखने:  एक भी टमाटर दैनिक विटामिन सी की आवश्यकता के बारे में 40% प्रदान कर सकते हैं और यह भी विटामिन ए, पोटेशियम, लोहा कि सामान्य रक्त स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए आवश्यक होता है। विटामिन के, जो खून बह रहा नियंत्रण और रक्त के थक्के है,सभी को कंट्रोल  रखता है टमाटर रक्त परिसंचरण में मदद करते हैं।
  4. ह्रदय रोग : टमाटर में लाइकोपीन हृदय रोगों के खिलाफ की रक्षा कर सकते हैं। उपभोक्ता टमाटर नियमित रूप से रक्त में कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड का स्तर कम करने, रक्त वाहिकाओं में वसा के जमाव को कम करने में मदद करता है।
  5. पाचन के लिए अच्छा: भोजन टमाटर दैनिक आपके पाचन तंत्र को स्वस्थ रख सकते हैं क्योंकि यह दोनों, कब्ज और डायरिया से बचाता है। यह  पीलिया को भी रोकता है और प्रभावी ढंग से शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालता है।
  6. रोजाना टमाटर का रस पीने से जॉंडिस रोग में बहुत लाभ होता है|
  7. कम वजन से परेशान लोग यदि भोजन के साथ पक्के टमाटर खाएं तो उनका वजन बढ़ता है।
  8. पेट में कीड़े हो तो टमाटर के टुकडों पर या रस में काली मिर्च का चूर्ण और सेंधा नमक डालकर खाएं। पेट के कीड़े दूर हो जाएंगे।
  9.  टमाटर के रस में थोडी-सी शर्करा मिलाकर पीने से पित्त की विकृति से उत्पन्न रोग दूर होते है।
  10. टमाटर खाने से न केवल मुंह के छाले दूर होते हैं बल्कि कब्ज की समस्या भी दूर होती है।
  11. छोटे बच्चों में आंखों की ज्योति में क्षीणता अनुभव होने पर उन्हें टमाटर खिलाना चाहिए। टमाटरों में विटामिन ए होता है जो आंखों की ज्योति को विकसित करता है।
  12. दांतों में खून की समस्या का अनुभव होते ही रोजाना दो सौ ग्राम टमाटर का रस सुबह-शाम पीने से बहुत लाभ होता है। यह स्कर्वी रोग में सहायक है।
  13. भोजन के प्रति अरूचि होने या  भूख न लगने की स्थिति में टमाटर के दो सौ ग्राम रस में अदरक का रस और नींबू का रस मिलाकर पीने से भूख अधिक लगती है।
  14. अर्श रोग में खून निकलने पर रोजाना दो सौ ग्राम टमाटर खाने या रस पीने से खून निकलने की समस्या दूर होती है, टमाटर कब्ज को दूर करता है।
  15. पके टमाटरों का रस रोजाना पिलाने से बच्चों के नाक से नकसीर की समस्या दूर होती है।
  16. पके टमाटरों का रस, सुबह-शाम पीने से गर्मियों में निकलने वाले फोड़े-फुंसियों व त्वचा के अन्य विकारों से सुरक्षा होती है।
  17.  गर्मियों में अधिक प्यास की विकृति होने पर दो सौ ग्राम टमाटर के रस में दो-तीन लौंग का चूर्ण मिलाकर पीने से बहुत लाभ होता है।
  18.  टमाटर के सौ ग्राम रस में पचास ग्राम नारियल का तेल मिलाकर, शरीर पर मलकर कुछ देर बाद स्नान करने से खाज-खुजली से राहत मिलेगी।
  19. अदरक, पोदीना, धनिया और सेंधा नमक को टमाटर के साथ पीसकर चटनी बनाकर भोजन के साथ सेवन करने से भूख बढ़ती है।
  20. दो सौ ग्राम टमाटर का रस सुबह-शाम पीने से रतौंधी की विकृति नष्ट होती है।
  21. टमाटर को काटकर उन पर सोंठ का चूर्ण और सेधा नमक डालकर खाने से पाचन क्रिया तीव्र होती है।
  22. टमाटर के डेढ़ सौ ग्राम रस में दस ग्राम शहद मिलाकर सेवन करने से नाक व मुंह से रक्तपित्त की समस्या दूर होती है।
  23. मधुमेह रोगी को रोजाना टमाटर का सेवन करना चाहिए। टमाटरों की खटाई शरीर में शर्करा की मात्रा को कम करती है।
  24. गर्भावस्था में स्त्रियों को टमाटर का दो सौ ग्राम रस रोजाना पीना चाहिए, इससे खून निकलने की समस्या दूर होती है।
  25. बच्चों को सूखा रोग होने पर आधा गिलास टमाटर के रस का सेवन कराने से फायदा होता है।
  26. दो या तीन पके हुए टमाटरों का नियमित सेवन करने से बच्चों का विकास शीघ्र होता है।
  27. शरीर का भार घटाने के लिए सुबह-शाम एक गिलास टमाटर का रस पीना लाभप्रद है।
  28. यदि गठिया रोग में एक गिलास टमाटर के रस की सोंठ तैयार करके उसमें एक चम्मच अजवायन का चूर्ण मिलाकर सुबह-शाम पीने से लाभ होता है।
  29. गर्भवती महिलाओं के लिए सुबह एक गिलास टमाटर के रस का सेवन फायदेमंद है।
  30. डाइबिटीज व दिल के रोगों में भी टमाटर बहुत उपयोगी होता है।
  31. इसमें कैलोरिज कम होती है इसलिए सलाद के रूप में खाया जाता है।ये शरीर से कई तरह बीमारियों से मुक्ति दिलवाते हैं।

Read For more –  http://www.sehatgyan.com/tamatar-ke-fayde-aur-nuksan/276
टमाटर के नुकसान:
ध्यान रखें तेज खांसी, दस्त और पथरी के रोगी को टमाटर नहीं खाना चाहिए। साथ शरीर में सूजन और मांसपेशियों में दर्द हो तो टमाटर का सेवन ना करें।
टमाटर में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व सारणी प्रतिसत के साथ
100 ग्राम प्रति राशि

कैलोरी(calories) 18 % दैनिक मूल्य* कुल वसा 0.2 ग्राम 0% संतृप्त वसा 0 जी 0%
पॉलीअनसेचुरेटेड(polyunsaturated) वसा 0.1 ग्राम Monounsaturated वसा 0 जी कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) 0 मिलीग्राम 0% सोडियम(sodium) 5 मिलीग्राम 0%
पोटेशियम 237 मिलीग्राम 6% कुल कार्बोहाइड्रेट(carbohydrates) 3.9 जी 1% पथ्य फाइबर(fiber) 1.2 जी 4% चीनी (sugar)2.6 जी
प्रोटीन (protein)0.9 जी 1% विटामिन(vitamin) ए की 16% विटामिन सी 22% कैल्शियम(calcium) 1% लौह 1% विटामिन डी 0% विटामिन बी 6 5%
विटामिन बी 12 0% मैग्नीशियम(magnesium) 2%      

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *